SINDHU SABHYATA (सिंधु सभ्यता) TOP 100 ONE LINER

SINDHU SABHYA(सिंधु सभ्यता) TA TOP 100 ONE LINER

SHINDHU SABHYATA
SHINDHU SABHYATA

सिंधु सभ्यता प्रश्न-उत्तर (20) (SINDHU SABHYATA)

  1. सिंधु सभ्यता (SHINDHU SABHYATA) किस क्षेत्र में स्थित थी? उत्तर: भारतीय उपमहाद्वीप के पश्चिमी तट पर सिंधु नदी के घाटी में।

  2. सिंधु सभ्यता(SHINDHU SABHYATA) का कौन-सा समयकाल था? उत्तर: लगभग 2600 ईसा पूर्व से 1900 ईसा पूर्व।

  3. सिंधु सभ्यता(SHINDHU SABHYATA) किस नदी पर आधारित थी? उत्तर: सिंधु नदी पर।
  4. सिंधु सभ्यता(SHINDHU SABHYATA) की भाषा क्या थी? उत्तर: सिंधी भाषा।
  5. सिंधु सभ्यता (SHINDHU SABHYATA) के लोग वाणिज्यिक थे, इसका क्या मतलब है? उत्तर: वे व्यापार के लिए प्रसिद्ध थे और व्यापार उनकी मुख्य आर्थिक गतिविधि थी।
  6. सिंधु सभ्यता में उपयोग की जाने वाली चीज़ें कौन-सी थीं? उत्तर: लोहे के उपकरण, स्थानीय सिंधु सिक्के, छल्ले, रथ, वस्त्र, सुंदर गहने, उच्चकुलीन अस्थियों का निर्माण आदि।
  7. सिंधु सभ्यता के लोगों का धार्मिक आचरण कैसा था? उत्तर: वे पशुपति धर्म के अनुयायी थे।
  8. सिंधु सभ्यता के लोगों का निवासस्थान कैसा था? उत्तर: उनके निवासस्थान मोहनजोदड़ो, हड़प्पा, और रखीगढ़ी जैसे पुरातात्विक स्थल होते थे।
  9. सिंधु सभ्यता का अध्ययन किस देश में हुआ? उत्तर: सिंधु सभ्यता का प्राय: अध्ययन भारत में ही किया जाता है।
  10. सिंधु सभ्यता का पतन किसके कारण हुआ? उत्तर: सिंधु सभ्यता का पतन विभिन्न कारणों से हुआ, जिनमें आक्रमण, अधिक शासनादेश, और नदी के पानी के स्तर की बदलती हुई स्थिति के कारण समावेश हो सकते हैं।
  11. सिंधु सभ्यता में शिक्षा का स्तर कैसा था? उत्तर: सिंधु सभ्यता में शिक्षा का स्तर उच्च था और लोगों के पास बिलकुल विकसित भाषा थी।
  12. सिंधु सभ्यता के संरचनात्मक विकास में वाणिज्य एवं व्यापार की भूमिका क्या थी? उत्तर: वाणिज्य एवं व्यापार सिंधु सभ्यता के संरचनात्मक विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते थे। व्यापार के माध्यम से वे अन्य क्षेत्रों से वस्त्र, खाद्य-विकिरण, और अन्य सामग्री खरीदते थे और उत्पादों को विदेशों में निर्यात करते थे।
  13. सिंधु सभ्यता में स्त्री एवं पुरुषों के पोषण स्रोत क्या थे? उत्तर: सिंधु सभ्यता में लोग खेती, व्यापार और पशुपालन से जीवन यापन करते थे, जिससे वे स्वयं को पोषित करते थे।
  14. सिंधु सभ्यता के लोगों के वस्त्र बनाने के लिए उपयोग हुए कपड़ों के बारे में बताएं। उत्तर: सिंधु सभ्यता में व्यापार के माध्यम से सूती, रेशमी, और तुलीजे के वस्त्र उपलब्ध थे जिनका व्यापार भारतीय उपमहाद्वीप और पश्चिमी देशों के साथ होता था।
  15. सिंधु सभ्यता में शौर्य शास्त्रों का महत्व क्या था? उत्तर: शौर्य शास्त्रों का महत्व सिंधु सभ्यता में समर्थ फौजी शक्ति की निर्माण में था जो राज्य की सुरक्षा और सुरक्षा को सुनिश्चित करती थी।
  16. सिंधु सभ्यता में बौद्धिक और सांस्कृतिक उन्नति के लिए किसे जिम्मेदार ठहराया जाता था? उत्तर: गुरुकुलों और बौद्ध मठों के द्वारा गुरु-शिष्य परंपरा के माध्यम से बौद्धिक और सांस्कृतिक उन्नति के लिए गुरु जिम्मेदार ठहराए जाते थे।
  17. सिंधु सभ्यता में खानपान का क्या महत्व था? उत्तर: सिंधु सभ्यता में खानपान का महत्व था क्योंकि वे सिक्के बनाने और खरीदने के लिए विदेशों के साथ व्यापार करते थे और खाद्य पदार्थ उनके दैनिक जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा था।
  18. सिंधु सभ्यता में धार्मिक और सांस्कृतिक अनुष्ठानों का विकास किस प्रकार हुआ था? उत्तर: सिंधु सभ्यता में धार्मिक और सांस्कृतिक अनुष्ठानों का विकास विभिन्न धार्मिक और सांस्कृतिक अनुष्ठानों के दौरान हुआ था जो धार्मिक उन्नति को प्रोत्साहित करते थे।
  19. सिंधु सभ्यता के निवासियों की मौत के पश्चात कई प्रकार के अंतिम संस्कार किए जाते थे। उनमें से कुछ कौन-कौन से थे? उत्तर: सिंधु सभ्यता में जलाने का, दफन करने का, और उपशामन का अंतिम संस्कार अनुष्ठान होते थे।
  20. सिंधु सभ्यता(SINDHU SABHYATA)के समय में किसानों का क्या महत्व था? उत्तर: सिंधु सभ्यता में किसानों का महत्व था क्योंकि वे भूमि पर आधारित अर्थव्यवस्था के मुख्य स्तंभ थे और खेती उनकी प्रमुख आर्थिक गतिविधि थी।

SHINDHU SABHYATA VEDIO LINK- https://youtu.be/FFFsEVANwTk

SINDHU SABHYATA (सिंधु सभ्यता) TOP 20 ONE LINER

SINDHU SABHYATA

1. हड़प्पा सभ्यता PUNJAB के मक्सिमा में स्थित थी जो प्राचीन भारतीय सभ्यताओं में से एक थी।
2. हड़प्पा सभ्यता का समय क्रिसीयुग से लेकर २६०० ई.पू. के आस-पास माना जाता है।
3. हड़प्पा सभ्यता के स्थान पर अब पाकिस्तान के सिंध प्रांत में मोहनजोदड़ो और हड़प्पा नगर स्थित हैं।
4. हड़प्पा सभ्यता के निवासियों का आवास बनाने के लिए अच्छे गुणवत्ता की ईंटें प्रयुक्त की जाती थी।
5. हड़प्पा सभ्यता में सड़कों की पुनर्निर्माण और नियंत्रण का प्रमुख केंद्र हड़प्पा नगर था।
6. सभ्यता में छोटे-छोटे सांचे बनाने के लिए पासीने का उपयोग किया जाता था जिससे वे खूबसूरत और उपयुक्त बनते थे।
7. हड़प्पा सभ्यता में नागरिकों की मुख्य आय कृषि से होती थी, जिसमें अनाज और फल-सब्जियाँ शामिल थीं।
8. हड़प्पा सभ्यता के स्वच्छता का ध्यान रखने के लिए विशेष जलसंचार प्रणालियाँ प्रयुक्त की जाती थी।
9. सभ्यता में मोहनजोदड़ो में विशेषकर बच्चों के लिए खेलने के खिलौने मिले हैं जैसे कि गोलू, बैटा, गुलिला आदि।
10. हड़प्पा सभ्यता का वस्त्र उनके दैनिक और आवश्यकताओं के अनुसार बनाया जाता था और सूत्र बुनाई जाती थी।
11. सभ्यता में गोहड़, बैल और ऊंट जैसे पशुओं का प्रयोग खेती और वाहनों के काम में किया जाता था।
12. हड़प्पा सभ्यता में तलवार, प्रहारी, बेलन और तंबाकू छुरी जैसे औजारों का प्रयोग किया जाता था।
13. सभ्यता में छत्र और छज्जे के लिए लकड़ी, बांस और मिट्टी का प्रयोग किया जाता था।
14. हड़प्पा सभ्यता की लेखनी भाषा की विशेषता थी जिसे ‘ब्राह्मी’ कहा जाता है।
15. सभ्यता के मोह

नजोदड़ो और हड़प्पा नगर में सड़कों की बदलती दिशाएँ और गलियाँ मिलती हैं जिससे यह पता चलता है कि यहाँ सड़क परियोजना की गई थी।
16. सभ्यता में स्वस्थ जीवन और सामाजिक समानता के लिए सभ्यता ने विशेष उपायों को अपनाया था जैसे कि सार्वजनिक स्नानघर, सामाजिक सभा, आदि।
17. हड़प्पा सभ्यता में मृत्यु के बाद शव को दफनाने के लिए समापन करने वाली स्थलीय परंपरा थी जिसमें समापन किस्मत या वास्तु के अनुसार किया जाता था।
18. सभ्यता के निवासियों के धार्मिक आदर्श और अनुष्ठान विविधता प्रदान करते थे, जिसमें पशु-यज्ञ, पूजा पाठ, मूर्तिपूजा, आदि शामिल थे।
19. सभ्यता में गहनों में सोने, चांदी, मोती, मूंगे आदि का प्रयोग किया जाता था जो उनकी सामाजिक स्थिति और आर्थिक स्तर की प्रतीक थीं।
20. हड़प्पा सभ्यता का पतन विभिन्न कारणों के कारण हुआ, जैसे कि मौसमिक परिवर्तन, नदी के पानी की कमी, आदि।

WATCH THIS VEDIO ABOUT (SHINDHU SABHYATA)

SHINDHU SABHYATA VEDIO 2 LINK- https://youtu.be/9d6n1jvE-NI

 

यहां तक कि अब तक कई(SHINDHU SABHYATA) और प्रश्न और उत्तर दिए गए हैं। सिंधु सभ्यता से संबंधित प्रश्न और उत्तर आपके अध्ययन को संबलित कर सकते हैं। आपको यहां दिए गए प्रश्न-उत्तरों से अपनी परीक्षा की तैयारी को और अच्छे से करने में सहायता मिलेगी। अगर आपके मन में और कोई प्रश्न है, तो आप पूछ सकते हैं।

 

Leave a Comment